shai hope

आज बांग्लादेश और वेस्टइंडीज़ के बीच एकदिवसीय श्रंखला का दूसरा मैच शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम पर खेला गया। बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट के नुकसान पर 255 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। बांग्लादेश की ओर से तीन अर्धशतकीय पारियां खेली गयीं।

जवाब में वेस्टइंडीज़ की टीम ने दो गेंद शेष रहते मुक़ाबला चार विकेट से अपने नाम कर लिया है। ख़ास बात यह रही कि अभी तक वेस्टइंडीज़ की यह इस दौरे पर पहली जीत है। संभव ही मेहमान टीम के बल्लेबाजों का मनोबल ऊंचा हुआ होगा।

बांग्लादेश की ओर से लगे तीन अर्धशतक

मैच की शुरुआत में ही सलामी बल्लेबाज लिटन दास रिटायर हर्ट हो मैदान से बाहर चले गए थे। इसके बाद आये इमरुल कयेस, ज़ीरो के स्कोर पर ओशेन थॉमस का शिकार बने।

tamim iqbal

लेकिन इसके बाद मुशफ़िकुर रहीम और तमीम इकबाल ने अर्शाताकीय परियां खेलीं। दोनों के बीच कुल 111 रन की पार्टनरशिप हुई। टीम की ओर से तीसरा पचासा, शाकिब-अल-हसन ने लगाया। उन्होंने 62 गेंदों पर 64 रन की तेज़ तर्रार पारी खेल टीम के स्कोर को 250 के पार पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई।

और पढें – विराट कोहली को 25 टेस्ट शतक में डॉन ब्रैडमैन के बाद दूसरा स्थान मिला

लिटन दास एक बार फिर क्रीज़ पर बल्लेबाजी करने उतरे लेकिन कुछ ख़ास कमाल न दिखा सके। चौदह गेंद पर आठ रन बना कर वो कीमो पॉल की गेंद पर शिमरोन हेटमेयर को कैच थमा बैठे।

शाई होप का शतक

shai hope

युवा सलामी बल्लेबाज शाई होप की बेहतरीन शतकीय पारी की बदौलत वेस्टइंडीज़ ने दो गेंद शेष रहते ही बांग्लादेश को मात देकर इस सीरीज़ में 1-1 से बर्बर कर ली है।

यह कहना ग़लत नहीं होगा कि मात्र शाई होप के दम पर वेस्टइंडीज़ इस मैच को जीतने में सफ़ल रही। दूसरा कोई बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में असमर्थ दिखाई पड़ा। डैरेन ब्रावो ने 43 गेंद में 27 रन की धीमी पारी जरुर खेली। खैर! जो भी हो वेस्टइंडीज़ को इस दौरे पर पहली जीत नसीब हुई है।

यह भी पढें – विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे ने संभाल टीम इंडिया को