parthiv patel

रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर के पास इतनी बेहतरीन बल्लेबाजी लाइनअप होने के बावजूद विराट कोहली के शेर हमेशा ढ़ेर हो जाते हैं। आईपीएल 2019 के पहले मैच में ही बंगलोर की टीम पूरे बीस ओवर भी नहीं खेल सकी है। पहले मैच के प्रदर्शन को देखते हुए अंदाजा लगाया जा सकता है कि विराट कोहली रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर को ख़िताब क्यों नहीं जिता पाए हैं।

हालाँकि एक मैच के प्रदर्शन को देखकर किसी टीम को तगड़ी या कमजोर कहना पूरी तरह गलत है। लो स्कोरिंग मैच तो बहुत बार सुना है, परन्तु जब यह लो स्कोर बिलकुल निचले स्तर पर पहुँच जाता है, तो सवाल उठने लाजिमी हैं।

पांचवां सबसे छोटा स्कोर

virat kohli
virat kohli vs chennai super kings 2019

चेन्नई के खिलाफ विराट कोहली के शेर केवल 70 रन पर ढ़ेर हो गए हैं। 17.1 ओवर में बंगलोर की पूरी पारी पवेलियन लौट गयी है। यह आईपीएल के इतिहास का पांचवां सबसे छोटा स्कोर है।

बंगलोर के फैंस को और शर्मिंदगी तब होगी जब हम आपको बताएँगे कि आईपीएल के इतिहास का सबसे छोटा स्कोर भी बंगलोर के ही नाम है। 2017 में आरसीबी की पूरी टीम कोलकाता के खिलाफ 49 रन पर आउट हो गयी थी।

ग्यारह में से दस बल्लेबाज दहाई के आंकड़े को नहीं छू सके

parthiv patel rcb
parthiv patel takes rcb to 70 againnst csk

पांचवे सबसे छोटे स्कोर तक तो ठीक था, परन्तु इससे भी अधिक ख़राब बात यह रही कि बंगलोर के ग्यारह में से दस बल्लेबाज दहाई के आंकड़े को भी नहीं छू सके हैं।

केवल पार्थिव पटेल ही ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने दस से अधिक रन बनाये। पार्थिव पटेल ने 35 गेंद में 29 रन की पारी खेल बंगलोर को सम्मानजनक स्कोर तक पहुँचाने की कोशिश जरूर की, मगर नाकाम रहे। लगातार अंतराल पर विकेट गिरते रहने के कारण आरसीबी को इस शर्मनाक स्थिति से जूझना पड़ रहा है।