kl rahul

बहुत से पूर्व भारतीय दिग्गज क्रिकेटर भी कह चुके हैं कि ऑस्ट्रेलियाई टीम को उन्हीं के घर पर हराने का भारत के पास यह सुनहरा मौका है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि कंगारू टीम में आज के दौर के डॉन ब्रैडमैन कहे जाने वाले स्टीव स्मिथ और विस्फ़ोटक ओपनर, डेविड वार्नर टीम में नहीं हैं।

टॉस तो भारतीय कप्तान ने जीता लेकिन पहला दिन ख़त्म होने तक भारत, मैच जीतने की स्थिति में तो बिलकुल नहीं है। उछाल लेती तेज़ गेंद के सामने भारत का टॉप ऑर्डर मानो बिखर सा गया।

Must Read – चेतेश्वर पुजारा ने टेस्ट क्रिकेट में पूरे किये पांच हज़ार रन

क्या रही वजह जो भारत है बैकफुट पर?

हालाँकि एक छोर से चेतेश्वर पुजारा, एक बार फ़िर भारतीय टीम की रीढ़ साबित हुए। ओपनिंग जोड़ी के साथ-साथ कप्तान विराट कोहली का विफ़ल होना सवाल खड़े कर गया कि आख़िर क्या वजह रही जो भारत इस मैच के पहले ही दिन पिछड़ सा गया है।

josh hazelwood

सात बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई फ़ील्डरों को कैच थमा बैठे। अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि मेहमान टीम के बल्लेबाजों का शॉट सिलेक्शन कितना ख़राब रहा होगा। केएल राहुल को ऑफ़-स्टंप से बाहर जाती गेंदों को छेड़ने की आदत सी पड़ चुकी है। यहाँ भी राहुल ऑफ़-स्टंप के बाहर जाती गेंद को छेड़ बैठे और कैच सीधी गयी ऑरोन फिंच के हाथों में।

Must Read – बॉलीवुड के सबसे फ़िट एक्टर

मुरली विजय जो मौजूदा समय के सबसे बेहतरीन टेस्ट क्रिकेट बल्लेबाजों में शुमार किये जाते हैं। उन्होंने भी वही गलती दोहराई जो राहुल ने दोहराई थी।

नहीं लिया है सबक

virat kohli

इसी साल की शुरुआत में जब भारत दक्षिण अफ़्रीकी दौरे पर था। काफ़ी संख्या में भारतीय बल्लेबाजों ने यही गलती की थी। ऑफ़-स्टंप के बाहर जाती गेंदों को छेड़ना और स्लिप में कैच थमा देना, जैसे भारतीय बल्लेबाजों की आदत बन चुकी है।

और पढें – ऑस्ट्रेलिया बनाम भारत दूसरा टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया ने बनाई अच्छी बढ़त

कप्तान कोहली भी इसी गलती का शिकार हुए। हम आपको गिनाते-गिनाते हार जाएंगे, लेकिन भारतीय बल्लेबाज अपनी गलतियों में सुधार नहीं लायेंगे। बाहर जाती गेंदों पर और अधिक अभ्यास की ज़रूरत है भारतीय बल्लेबाजों को।

Read More – pixelfollow.com

6 COMMENTS

Comments are closed.